नवम्बर 27, 2022

Motivational & Success Stories in Hindi- Best Real Life Inspirational Stories

Find the best motivational stories in hindi, inspirational story in hindi for success and more at hindifeeds.com

IACP recognize IPS Amit Kumar & Santosh Kumar

आइए जानते हैं उत्तर प्रदेश के दो IPS अफसरों के बारे में जिन्हें मिला है अमेरिका द्वारा प्रतिष्ठित IACP अवार्ड

जानकारी के लिए आप सभी को बता दें कि एसपी अमित कुमार एवं संतोष कुमार सिंह को छत्तीसगढ़ एवं यूपी के क्षेत्र में अपना सर्वोत्तम पुलिसिंग सर्विस देने के लिए इंटरनेशनल एसोसिएशन ऑफ चीफ्स ऑफ पुलिस (IACP) , 40 अंडर 40 के पुरस्कार हासिल हुए हैं ‌।

जानकारी के लिए आप सभी को बता दें कि भारत के 2 आईपीएस अधिकारियों को एसोसिएशन ऑफ चीफ्स ऑफ पुलिस (IACP) वर्ष 2021 40 अंडर 40 पुरस्कार हासिल किए हैं , अर्थात यह अवार्ड इस वर्ष अक्टूबर के महीने में USA मैं सम्मान के साथ आईपीएस अधिकारियों को दिया जाएगा ।

जानकारी के लिए आप सभी को बता दें कि IACP वेबसाइट के अंतर्गत पता चला है कि यह अवार्ड दुनियाभर के 6 देशों के बेहतरीन कुल 40 पुलिस अधिकारी शामिल है जिसमें से दो भारतीय आईपीएस अधिकारी शामिल है , जिनका नाम अमित कुमार एवं संतोष कुमार सिंह है , अर्थात इन आईपीएस अधिकारियों को अपना काम बेहतरीन तरीके से एवं संपूर्ण सेवा भाव से करने के लिए सम्मानित किया जाएगा ।

एसोसिएशन ऑफ चीफ्स ऑफ पुलिस (IACP) अमेरिका की एक संस्था है जिसके अंतर्गत दुनिया के 165 देशों के पुलिस अधिकारी शामिल है , जानकारी के लिए आप सभी को बता दें कि अमेरिका की यह संस्था साल 1893 से कार्य कर रही है अर्थात देश के बेहतरीन और उत्कृष्ट कार्य करने वाले पुलिस अधिकारियों को उनके कार्य के लिए सम्मानित कर रही है।

अर्थात इस बार अमेरिका की इस संस्था के द्वारा अमेरिका ऑस्ट्रेलिया एवं UAE समेत कुल 40 देशों से 40 पुलिसकर्मियों को चुना गया है अर्थात जिसके अंतर्गत भारत के 2 आईपीएस अधिकारी अमित कुमार और संतोष कुमार सिंह को 40 अंडर 40 की कैटेगरी दी गई है ।

यह आईपीएस अधिकारी संतोष कुमार सिंह छत्तीसगढ़ के कोरबा जिले के पुलिस अध्यक्ष एवं अमित कुमार उत्तर प्रदेश चंदौली के एसपी है ।

यह है संतोष कुमार सिंह

जानकारी कि आप सभी को बता दें कि संतोष कुमार सिंह मूल रूप से उत्तर प्रदेश के गाजीपुर जिले के देवकली गांव के रहने वाले हैं , अर्थात छत्तीसगढ़ के वर्ष 2011 कैडर के आईपीएस अधिकारी हैं। संतोष कुमार सिंह ने अपनी प्रारंभिक पढ़ाई अपने गांव से ही पूरी की है अर्थात इन्होंने आगे की पढ़ाई के लिए बनारस हिंदू विश्वविद्यालय से अपनी आगे की पढ़ाई पूरी की है । केवल इतना ही नहीं संतोष कुमार ने JNU से इंटरनेशनल रिलेशंस से एमफिल की डिग्री भी हासिल की है, अर्थात इसके बाद ही वह सिविल सेवा से जुड़े थे ।

एवं सिविल सेवा से जुड़ने के बाद उनकी पहली पोस्टिंग छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में हुई थी जिसके बाद उन्होंने नक्सल प्रभावित इलाकों में बतौर एक एडिशनल एसपी नक्सल ऑपरेशन जॉइन किया था , अर्थात इन्होंने छत्तीसगढ़ के कई क्षेत्रों में अपनी सेवा दी है ।

जानकारी के लिए आप सभी को बता दें कि पुलिस अध्यक्ष के पद पर जाने के बाद लगभग 8 साल तक संतोष कुमार सिंह ने एक बेहतरीन पुलिसिंग सर्विस दी है अर्थात इसके साथ ही साथ उन्होंने पुलिस की छवि को सुधारने का काफी प्रयत्न भी किया है साथ ही साथ इन्हें इनके अच्छे कार्यों के लिए कई अवॉर्ड भी मिले हैं ।

यह है अमित कुमार

जानकारी के लिए आप सभी को बता दें कि अमित कुमार वर्ष 2015 बैच के आईपीएस अफसर है अर्थात वर्तमान में इनकी पोस्टिंग बतौर एसपी उत्तर प्रदेश के चंदौली में है , अर्थात मूल रूप से यह दिल्ली के रहने वाले हैं एवं इनके पिता सीआरपीएफ में असिस्टेंट कमांडेंट है ।

अमित कुमार ने बताओ चंदौली में एसपी कार्य करते हुए फरार कई अपराधियों को गिरफ्तार करने में काफी अधिक मदद की है। अमित कुमार ने अपनी एमबीए की पढ़ाई पूरी करने के बाद इंजीनियर की पढ़ाई की अर्थात इसके बाद उन्होंने अमेरिका में एक सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट कंपनी में कार्य भी किया , अर्थात इसके बाद आईपीएस बन कर उन्होंने अपनी इस नौकरी को छोड़ दिया और पूरी तरह से देश की सेवा करने का फैसला कर लिया ।

हम खाकी वर्दी पहनकर कार्य करने वाले सभी पुलिसकर्मियों और उनके जज्बे एवं वतन के प्रति उनके प्रेम को सलाम करते हैं ।

लेखिका : अमरजीत कौर

यह भी पढ़ें :

सुखपाल जो अपनी नौकरी के बाद , भीख मांगने वाले बच्चों को पढ़ाते हैं ,कई बच्चों ने पहली बार उठाई पेंसिल