Tulika Suneja : एक ऐसी गृहिणी जिसने खोला है क्रॉकरी बैंक, शादी समारोह के लिए देती है मुफ्त स्टील के बर्तन

Tulika Suneja crockery bank

आज हम बात करने वाले हैं फरीदाबाद की रहने वाली तूलिका सुनेजा के बारे में , तूलिका सुनेजा वर्ष 2018 से क्रॉकरी बैंक चला रही है और इसके जरिए शहरों मैं हो रहे रोजाना लाखों प्लास्टिक के प्लेट चम्मच और ग्लास जैसी सिंगल इस्तेमाल की चीजों को लैंडफील में जाने से बचा रही है ।

हम सभी रोजाना खुशियां त्योहारों और धार्मिक उत्सव में भी जाने अनजाने कई बार प्लास्टिक का ढेरों कचरा इकट्ठा कर लेते हैं , और इस दौरान हम अपनी खुशियों के बीच में इस बात का ध्यान नहीं रखते हैं कि प्लास्टिक से हमारा शहर और देश दूषित हो रहा है।

परंतु फरीदाबाद की रहने वाली एक गृहिणी तूलिका सुनेजा ने इस बात को गंभीरता से समझा और इसे कम करने के लिए क्रोकरी बैंक की शुरुआत की है । जानकारी के लिए आप सभी को बता दें कि तूलिका सुनेजा फरीदाबाद में एक क्राकरी बैंक चलाती है और हरियाणा के कई कई शहरों में अपने स्टील के बर्तन इस्तेमाल के लिए देती है, वह भी मुफ्त में ।

तूलिका सुनेजा के क्रोकरी बैंक से लोग विवाह समारोह धार्मिक उत्सव के लिए स्टील के बर्तन यहां से लेकर जाते हैं इसके लिए उन्हें सिक्योरिटी के लिए कुछ पैसे देने पड़ते हैं परंतु सारे बर्तन लौट आने के बाद यह सिक्योरिटी पैसे उन्हें वापस लौटा दी जाती है ।

किस प्रकार आया क्रोकरी बैंक का आईडिया

जानकारी के लिए आप सभी को बता दें कि तूलिका सुनेजा ने वर्ष 2018 में इस काम की शुरुआत सबसे पहले अपने घर से की थी , हालांकि तूलिका सुनेजा चाहती थी कि वह अपना यह कार्य अपने दोस्तों के साथ मिलकर शुरू करें परंतु जब उन्होंने अपना यह आईडिया अपने दोस्तों को बताया तो किसी ने भी उनका साथ नहीं दिया ।

इस दौरान उन्होंने अपने पति के मदद से और कुछ सेविंग से अपनी क्रोकरी बैंक की शुरुआत की और क्रॉकरी बैंक के लिए स्टील के बर्तन खरीदे , और इसकी जानकारी उन्होंने सोशल मीडिया पर दी और अपने क्रोकरी बैंक के दरवाजे सबके लिए खोल दिए ।

आने वाली पीढ़ी को स्वास्थ्य और खूबसूरत पर्यावरण देने के मकसद से शुरू किया क्रोकरी बैंक

फरीदाबाद की रहने वाली गृहिणी तूलिका सुनेजा हमेशा ही अपने परिवार को स्वस्थ रखने के लिए जागरूक रही है, इस दौरान उन्हें हमेशा से यह महसूस हुआ है कि पर्यावरण के लिए कुछ करना चाहिए ।

तूलिका सुनेजा का कहना है कि सस्ते प्लास्टिक बर्तन की सहूलियत के चक्कर में हम अपने पर्यावरण के बारे में सोचना ही छोड़ दे रहे हैं , परंतु अब वर्तमान में धीरे-धीरे सरकार भी सिंगल यूज प्लास्टिक पर बैन लगा रही है , परंतु हम इसे भी इमानदारी से नहीं अपनाते हैं ।

इस दौरान आम ग्रहणी तूलिका सुनेजा ने प्लास्टिक के कप प्लेट चम्मच के इस्तेमाल को कम करने के लिए काफी महत्वपूर्ण कार्य कर रही हैं , अर्थात अगर आप ही फरीदाबाद या हरियाणा के शहरों में रहते हैं तो आप आसानी से तूलिका सुनेजा के क्रोकरी बैंक से मुफ्त में स्टील के बर्तन ले सकते हैं , अर्थात अधिक जानकारी के लिए आप उनसे फेसबुक पर भी संपर्क कर सकते हैं ।

अगर देखा जाए तो प्लास्टिक का इस्तेमाल ना करने का एक छोटा सा कदम यूज एंड थ्रो छोड़ कर  हमें यूज एंड रीयूज तक जाना चाहिए ।

 

लेखिका : अमरजीत कौर

यह भी पढ़ें :

अनपढ़ थी दिव्यांग कलावती ,परंतु आज 28 वर्ष की उम्र में पूरे पंचायत को बना रही है साक्षर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *