नवम्बर 30, 2022

Motivational & Success Stories in Hindi- Best Real Life Inspirational Stories

Find the best motivational stories in hindi, inspirational story in hindi for success and more at hindifeeds.com

Enterprise monkey ke founder Aamir Qutub ki kahani

एक ऐसा शख्स जो कभी सफाई करके भरता था अपना पेट, आज बन गया है करोड़ों की कंपनी का मालिक

कहां जाता है कि सपने को सच करने के लिए हौसलों में उड़ान का होना काफी आवश्यक है अर्थात आज हम आपको एक ऐसे शख्स की कहानी बताने वाले हैं , जो पहले सफाई करके अपना पेट भरता था परंतु आज बन चुका है करोड़ों की कंपनी का मालिक आइए जानते हैं इस शख्स की सफलता की कहानी ।

आज हम आपको उत्तर प्रदेश अलीगढ़ के रहने वाले आमिर कुतुब की सफलता भरी कहानी बताने वाले हैं जो आज देश के कई युवाओं के लिए प्रेरणा स्रोत बन गए हैं ।

आमिर ने वह कर दिखाया है जो हम सपने में भी नहीं सोच सकते हैं जानकारी के लिए आप सभी को बता दें कि आमिर पहले अपना पेट भरने के लिए ऑस्ट्रेलिया के एयरपोर्ट पर सफाई का कार्य करते थे परंतु आज यह करोड़ों की कंपनी के मालिक हैं।

जानकारी के लिए आप सभी को बता दें कि आज आमिर की कंपनी में 100 से अधिक लोग कार्य करते हैं , 33 वर्षीय आमिर बताते हैं कि एक समय ऐसा था जब उन्हें 300 कंपनियों से रिजेक्शन मिली थी ।

आमिर कुतुब छोटे से शहर अलीगढ़ के निवासी हैं अर्थात इन्होंने अपनी एमबीए की पढ़ाई पूरी करने के बाद नौकरी की तलाश में ऑस्ट्रेलिया की ओर चले गए थे ।

सभी युवाओं की तरह आमिर का भी सपना था कि वह मल्टीनेशनल कंपनी में एक जॉब करें परंतु उन्होंने अपने जीवन में कई कंपनियों से रिजेक्शन का सामना किया है , रिपोर्ट के अनुसार पता चला है कि आमिर कुतुब ने 300 कंपनी ने आवेदन किए थे परंतु उन्होंने सभी कंपनियों से रिजेक्शन हासिल हुआ था।

ऑस्ट्रेलिया के एयरपोर्ट पर किया था कार्य

नौकरी की तलाश में आमिर कुतुब ऑस्ट्रेलिया तो पहुंच गए परंतु यहां पर उन्हें कई मुसीबतों का सामना करना पड़ गया , आमिर बताते हैं कि ऑस्ट्रेलिया जाना उनके लिए काफी डरावना था क्योंकि उनकी अंग्रेजी यहां के लोगों से संवाद करने लायक बेहतर नहीं थी ।

कई कंपनियों ने उन्हें रिजेक्शन दिया अर्थात इंटरव्यू का मौका भी नहीं दिया इस दौरान उन्होंने विक्टोरिया में एवलॉन हवाई अड्डे मैं क्लीनर के काम सहित कई कार्य किए अर्थात इस दौरान उन्होंने 6 महीने वहीं पर गुजारे थे ।

सॉफ्टवेयर प्रोजेक्ट से मिली सफलता

जानकारी के लिए आप सभी को बता दें कि आमिर ने अपनी विश्वविद्यालय की पढ़ाई पूरी होने के बाद सॉफ्टवेयर प्रोजेक्ट में इंटरशिप करना शुरू किया था इस तहत उन्होंने टेक कंपनी आईसीटी जिलॉन्ग मैं इंटरशिप की अर्थात 15 दिनों के बाद ही यह ऑपरेशन मैनेजर के रूप में प्रमोट कर दिए गए थे ।

आमिर को अपने काम से काफी अधिक लगाव था अर्थात उन्हें अपनी मेहनत पर पूरा भरोसा था और अपने हौसले को प्रबल करके उन्होंने मात्र 2 वर्ष में कंपनी में आईजीएम के पद को हासिल कर लिया था वह बताते हैं, कि कंपनी में मेरी नियुक्ति के बाद कंपनी को 300% की वृद्धि हुई थी ‌।

शुरुआत की खुद की कंपनी की

आमिर कुतुब ने टेंक कंपनी में कार्य करते हुए खुद की कंपनी शुरू करने का फैसला लिया , इस दौरान आमिर कुतुब ने वर्ष 2014 में महज $2000 का इस्तेमाल करके अपनी कंपनी की शुरुआत की जिसका नाम उन्होंने एंटरप्राइज मंकी लिमिटेड रखा । अर्थात आज इनकी कंपनी करोड़ों का टर्नओवर कमा रही है ।

आमिर कुतुब की कहानी युवाओं को यह सीख देती है कि कभी भी परिस्थितियों से हार नहीं माने प्रयास करें सफलता आपको अवश्य मिलेगी अर्थात आमिर कहते हैं कि सभी युवाओं को अपने लक्ष्य को प्राप्त करने की सोच नहीं रखनी है अर्थात सदैव अपने लक्ष्य को आगे बढ़ाने की सोच रखनी है ।

 

लेखिका : अमरजीत कौर

यह भी पढ़ें :

इस 11 साल के बच्चे का है IQ लेवल आइंस्टीन और हॉकिंग से भी है अधिक