ADVERTISEMENT

कपड़े के बिजनेस मैन ने स्पेन से सीखी खेती, घर वाले देते थे ताना परंतु आज अनार की खेती करके कमाते हैं लाखों

ADVERTISEMENT

आज हम एक ऐसे युवक के बारे में बात करने जा रहे हैं जिसने अपने करोड़ों का कपड़े का बिजनेस अर्थात 2 जिलों में अपनी फैक्ट्री को छोड़कर 35 वर्ष के नितिन कोठारी ने अनार की खेती करने का निश्चय किया ।

परंतु नितिन के परिवार ने उनके इस फैसले का बिल्कुल भी साथ नहीं दिया , क्योंकि नितिन कोठारी का इतना बड़ा कपड़े का कारोबार छोड़कर खेती करना उनके परिवार वालों को शोभा नहीं दे रहा था ।

ADVERTISEMENT

परिवार वालों का मानना है कि इस कपड़े के बिजनेस से इतना अधिक मुनाफा अर्जित हो रहा है क्या पता खेती से इतना अधिक मुनाफा आए या नहीं ।

परंतु नितिन अपनी जिद पर अड़े रहे उन्होंने अपने परिवार की नहीं सुनी और खेती शुरू करने की सोच पर अड़े रहे । इस दौरान उन्होंने अपने कपड़े के बिजनेस को छोड़ दिया और खेती करने का निश्चय कर लिया।

इस दौरान उन्होंने रिसर्च की और लगभग 3 साल पहले खेत में 5000 अनार के पौधे लगाए , परंतु आज नितिन के खेत में 15,000 से अधिक अनार के पौधे हैं और इन सभी पौधों पर लगे फल, कुल मिलाकर सभी फलों की कीमत 2 करोड़ रुपए हैं ।

जानकारी के लिए आप सभी को बता दें कि नितिन कोठरी पाली शहर के रहने वाले हैं, अर्थात इन्होंने अपनी बीकॉम की पढ़ाई को पूरा करने के बाद अपने फैमिली बिजनेस में हाथ बढ़ाया परंतु उन्हें कपड़ों के बिजनेस में किसी प्रकार की दिलचस्पी नहीं लगी ।

इसलिए उन्होंने अपने फैमिली बिजनेस को छोड़ दिया और इसके कुछ समय बाद ही उनके एक दोस्त ने उन्हें अनार की खेती के बारे में बताया ।

इसके बाद नितिन अनार की खेती करने के बारे में विचार किया और इसलिए उन्होंने स्पेन की एक संस्था से अनार की खेती के लिए ऑनलाइन कोर्स किया । इसके बाद नितिन ने लगातार प्रयास करते रहे और आज इन्होंने अनार का एक बहुत बड़ा बगीचा तैयार कर लिया है ।

नितिन बताते हैं कि जब वह अनार की खेती करने की शुरुआत कर रहे थे तब उनके परिवार वाले कहते थे कि एसी में रहने वाला लड़का बाहर धूप में रहकर किस प्रकार खेती करेगा परंतु आज अपनी 3 साल की मेहनत के कारण नितिन ने अनार का बहुत बड़ा बगीचा तैयार कर लिया है ।

देशभर के अनार के खेतों की जानकारी के लिए किया रिसर्च

नितिन बताते हैं कि 3 साल पहले जब उन्होंने अनार की खेती करने का निश्चय किया तब उनकी राह आसान नहीं थी कई लोगों ने कहा कि अनार के पौधों को एक बच्चे की तरह पालना पड़ता है। इस दौरान नितिन ने बैंगलुरू के डिपार्टमेंट ऑफ एग्रीकल्चर से डिप्लोमा किया

उसके बाद यूट्यूब से देखकर स्पेन की एक संस्था से जुड़े और खेती का ऑनलाइन कोर्स किया , इसके बाद उन्होंने गुजरात और महाराष्ट्र के 50 से अधिक खेतों में जाकर अनार के पौधे की जानकारियों को हासिल किया , इतना कुछ करने के बाद अनार की खेती को पूरी तरीके से समझ कर उन्होंने अनार की खेती करनी शुरू की थी।

खेत में पहुंच रहे हैं कई खरीदार

नितिन कोठरी बताते हैं कि उनके परिवार का 35 साल पुराना कपड़ों का मैन्युफैक्चरिंग का बिजनेस था और उनका परिवार चाहता था कि वह भी इस बिजनेस से जुड़े और इसमें कार्य करें , उन्होंने परिवार वालों की बात मानकर फैक्ट्री में काम भी संभाला परंतु पोलूशन को देखकर उनका मन पूरी तरह से उठ गया ।

इस दौरान उन्होंने बिजनेस को छोड़ने का मन बना दिया और अपने परिवार वालों से साझा किया कि वह अनार की खेती करना चाहते हैं उनके परिवार वालों ने कहा एसी और लग्जरी कार में रहने वाला खेतों को कैसे संभाल लेगा ।

परंतु आज अपनी मेहनत और लगन आज उनके अनार के खेतों में कई अनार है और अनार के फल को देखकर उनके परिवार वाले भी काफी खुश हैं इसके साथ ही साथ नितिन कोठारी को अपने खेतों की फसलों को बेचने के लिए कहीं बाहर भी नहीं जाना पड़ता है ग्राहक खुद इनके खेतों में आकर इनकी उच्च क्वालिटी के अनारो को लेकर जाते हैं ।

नितिन कोठरी अपने कपड़े के कारोबार को छोड़कर आज खेती करके काफी अच्छा मुनाफा कमा लेते हैं इन्होंने अपने खेतों में 7 मजदूरों को भी रखा है, नितिन का कहना है कि अगर कोई भी कार्य मेहनत और लगन के साथ किया जाए तो कोई भी कार्य असंभव नहीं है।

 

लेखिका : अमरजीत कौर

यह भी पढ़ें :

बीटेक पास हिमांशु गंगवार ने शुरू किया खेती अब कमाते है लाखों

Similar Posts

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *