ADVERTISEMENT

अगर नौकरी के लिए अप्लाई करने पर मिल रही है असफलता तो अवश्य पढ़े यह प्रेरणा भरी सफलता की कहानी

Tyler Cohen ki safalta ki kahani
ADVERTISEMENT

आज हम बात करने वाले हैं अमेरिका के कैलिफ़ोर्निया रहने वाले टायलर कोहेन के बारे में , जानकारी के लिए आप सभी को बता दें कि टायलर कोहेन का गूगल कंपनी में काम करने का सपना था परंतु उन्हें उनके 40वें प्रयास में सफलता हासिल हुई और वह गूगल की कंपनी में कार्यरत है।

दुनियाभर में करोड़ों लोग हैं और हर दिन कहीं ना कहीं नौकरी के लिए प्रयास कर रहे हैं और रिजेक्शन का शिकार हो रहे हैं , अर्थात आप जिस समय हमारे इस खबर को पढ़ रहे होंगे उस वक्त भी कई लोग अपने सपनों की कंपनी में आवेदन कर रहे होंगे अर्थात कई लोग अपनी पसंदीदा नौकरियों से रिजेक्शन का शिकार हो रहे होंगे ।

ADVERTISEMENT

हालांकि कभी भी रिजेक्शन से हार नहीं माननी चाहिए लगातार अपनी मेहनत के बल पर प्रयास करना चाहिए अर्थात कामयाबी अवश्य हासिल होती है । आइए जानते हैं ऐसे ही रिजेक्शन से शिकार होने वाले और लगातार प्रयासों से अपनी काबिलियत हासिल करने वाले टायलर कोहेन के बारे में ,

टायलर कोहेन ने 40वें प्रयास में हासिल की गूगल कंपनी में नौकरी

जानकारी के लिए आप सभी को बता दें कि अमेरिका के कैलिफोर्निया के रहने वाले टायलर कोहेन ने अपने सपने के कारण 39 बार गूगल कंपनी के द्वारा  रिजेक्शन झेला है अर्थात इन्होंने अपनी काबिलियत के बल पर अपने 40 में प्रयास में आखिर अपने सपने को सच करके दिखाया है ।

ADVERTISEMENT

टायलर कोहेन के काबिलियत के चर्चे सोशल मीडिया पर अधिक वायरल हो रहे हैं , दरअसल टायलर कोहेन ने अपने सपने को सच करने के लिए कई बार रिजेक्शन को झेला परंतु हार नहीं मानी और आज अपने सपने को पूरा कर दिखाया है ।

ज़िद और पागलपन में होता है बहुत ही कम फर्क

जानकारी के लिए आप सभी को बता दें कि अपनी सफलता से काबिलियत की किस्से को सोशल मीडिया पर शेयर करते हुए टायलर कोहेन का कहना है कि जिद और पागलपन में काफी कम फर्क होता है और वह अब तक नहीं समझ पाए कि उनके अंदर क्या है ।

जानकारी के लिए आप सभी को बता दें कि अपने सपने को अपनी काबिलियत के बल पर काफी रिजेक्शन के बाद सफलता हासिल करने वाले टायलर कोहेन इससे पहले DoorDash नाम की कंपनी में Strategy & Ops के असोसिएट मैनेजर रह चुके हैं ।

अर्थात टायलर कोहेन ने सोशल मीडिया पर अपने द्वारा कई स्क्रीनशॉट पेश किए थे जिसमें साफ-साफ देख रहा था कि टायलर कोहेन वर्ष 2019 से गूगल कंपनी में अप्लाई करना शुरू किया था और आज 39 रिजेक्शन के बाद उन्हें अपने 40 में प्रयास में सफलता हासिल हुई है ।

गूगल द्वारा भी दी गई प्रतिक्रिया

जानकारी के लिए आप सभी को बता दें कि अपनी काबिलियत के बल पर सफल होने के बाद टायलर कोहेन ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म लिंक्डइन पर शेयर किया था अर्थात उनके इस प्रतिक्रिया पर गूगल के हैंडल से भी प्रतिक्रिया आई अर्थात गूगल द्वारा लिखा गया कि “यह सफर काफी अद्भुत है “। साथ ही सब लिंक्डइन ने टायलर कोहेन को अपना अनुभव अर्थात प्रतिक्रिया जाहिर करने के लिए काफी अधिक धन्यवाद किया ।

लोगों ने भी दी अधिक प्रतिक्रिया

टायलर कोहेन की प्रतिक्रिया पर कई लोगों ने प्रतिक्रिया दी कई लोगों ने व्यक्त किए साथ ही साथ कई लोगों ने यह भी बताया कि उन्हें भी नौकरी के दौरान कई बार रिजेक्शन हासिल हुआ है । अब तक टायलर की इस पोस्ट पर हजारों सैकड़ों लाइक और रिएक्शन दिया जा चुके हैं ।

आज अमेरिका के कैलिफोर्निया के रहने वाले टायलर कोहेन दुनिया भर के कई लोगों के लिए प्रेरणा स्रोत बन रहे हैं , अर्थात टायलर कोहेन की कहानी अपने सपने को पूरा करने की जज्बे को दर्शाती है अर्थात रिजेक्शन के बाद हार नहीं माननी चाहिए लगातार प्रयत्न करने चाहिए काबिलियत के अनुसार आपको सफलता अवश्य मिलेगी ।

 

लेखिका : अमरजीत कौर

यह भी पढ़ें :

बिहार के आलू बेचने वाले पिता की दो बेटियों ने एक साथ बिहार पुलिस अवर सेवा आयोग में सफलता हासिल की है , खुशी से पिता बांट रहे हैं लड्डू

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *