ADVERTISEMENT
Mango man Kalimullah Khan ki kahani

आइए जानते हैं एक ऐसे व्यक्ति के बारे में जो एक पेड़ पर उगाता है 300 किस्मों के आम भारत के मैंगो मैन के नाम से प्रसिद्ध है यह व्यक्ति

ADVERTISEMENT

गर्मी का मौसम आते हैं , बाजारों में आम देखने शुरू हो जाते हैं , अर्थात भारत देश में आम की कई प्रकार की अलग-अलग किस्में उगाई जाती है।

देश के कई लोगों को आम खाना काफी अधिक पसंद होगा अर्थात यह मीठा और रसीला फल सबका लोकप्रिय होता है , परंतु आज हम आपको भारत के मैंगो मैन के बारे में बताने वाले हैं जो भारत में आम की 300 से अधिक किस्म उगाता है ।

ADVERTISEMENT

ये हैं भारत के मैंगो मैन

हम जिस भारत के मैंगो मैन की बात करें हैं उसका नाम कलीम उल्लाह खान है , जानकारी के लिए आप सभी को बता दें कि कलीम उल्लाह खान 300 प्रकार के आमों की खेती करते हैं , अर्थात कलीम उल्लाह खान आम की खेती करने के लिए प्रतिदिन मील की दूरी तय करके अपने बगीचों में पहुंचते हैं अर्थात इनके बगीचों में 120 साल पुराने आम के पेड़ मौजूद है ।

उत्तर प्रदेश के लखनऊ जिले में एक छोटे से गांव मलिहाबाद के रहने वाले हैं‌ कलीम उल्लाह खान , एवं इसी स्थान पर कलीम का जन्म भी हुआ था अर्थात कलीम पिछले कई सालों से आम की खेती करते आ रहे हैं ।

यही कारण है कि आज कलीम के बगीचे में 120 वर्ष पुराने आम के पेड़ मौजूद है अर्थात ऐसे ही कलीम उल्लाह खान खुद का दुनिया का सबसे बड़ा आम कॉलेज मानते हैं।

एक पेड़ पर उगा दिए हैं 300 से अधिक आम के प्रकार

आप सोच रहे होंगे कलीम आम का पूरा बगीचा होगा जहां वह आपके 300 से अधिक किस्में को उगाते हैं परंतु ऐसा कुछ भी नहीं है , जानकारी के लिए आप सभी को बता दें कि कलीम खान के पास आम का एक पेड़ है जिसे उन्होंने ग्राफ्टिंग तकनीक का इस्तेमाल करके उगाया है ।

इस तकनीक के तहत उन्होंने एक पेड़ में अलग-अलग किस्म के पौधों को जोड़ दिया है , इस प्रकार एक ही पेड़ में 300 किस्म के आम उगते हैं । जानकारी के लिए आप सभी को बता दें कि कलीम खान ने वर्ष 1987 में ग्राफ्टिंग तकनीक से तैयार किया था , और यह आम का पेड़ 120 साल पुराना है ।

जानकारी के लिए आप सभी को बता दें कि कलीम खान ने ना केवल ग्राफ्टिंग तकनीक का उपयोग करके आम का पेड़ तैयार किया है जो 300 किस्मों के आम एक पेड़ देता है इसी प्रकार कलीम खान ने ग्राफ्टिंग तकनीक से सात फलो वाला पेड़ तैयार किया था परंतु आंधी तूफान ने उस पेड़ को बर्बाद कर दिया था ।

हर आम होता है अलग रंग और स्वाद का 

जानकारी के लिए आप सभी को बता दें कि कलीम खान का 120 साल पुराना पेड़ विभिन्न रंग स्वाद और अकार वाला आम देता है जिसकी मार्केट में काफी अधिक मांग है । आश्चर्यचकित करने वाली बात है परंतु यह सत्य है कलीम खान ने अपनी एक आम की किस्म का नाम एक्ट्रेस ऐश्वर्या राय के ऊपर रखा है।

कलीम खान बताते हैं कि उन्होंने अपनी उच्चतम किस्म का नाम ऐश्वर्या किस्म रखा है क्योंकि यह किस्म का आम देखने में बहुत ही सुंदर और इसकी  बाहरी त्वचा लाल और अंदर से यह काफी अधिक रसीला और मीठे स्वाद का होता है , और इसका वजन 1 किलोग्राम से ज्यादा होता है ।

केवल इतना ही नहीं  कलीम खान ने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं भारतीय क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर के सम्मान में भी अपने आम की किस्म के नाम रखे हैं , जबकि कलीम खान अनारकली नामक आम की किस्म को भी उगा चुके हैं , कलीम खान द्वारा उगाए गए सभी आम की किस्में स्वाद में अलग सुगंध में अलग आकार में अलग देखने में अलग और उच्च कोटि के होते हैं।

जानकारी के लिए आप सभी को बता दें कि कलीम खान को उनके इस टैलेंट के लिए कई बार सम्मानित किया जा चुका है , केवल इतना ही नहीं कलीम खान को भारत के द्वारा मैंगो मैन के टाइटल से नवाजा गया है ।

वर्ष 2008 में कलीम खान को भारत की ओर से सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार दिया गया था , केवल इतना ही नहीं कलीम खान को विदेशों से भी सम्मानित किया जा चुका है इसमें कुछ देश शामिल है जैसे संयुक्त अरब अमीरात , इराक  इत्यादि ।

 

लेखिका : अमरजीत कौर

यह भी पढ़ें :

अमेरिका के 80 लाख पैकेज वाली नौकरी को छोड़ कर बने किसान , आइए जानते हैं मेरठ के किसान तुषार के बारे में जो खीरे की खेती करके बन गए हैं करोड़पति

Similar Posts

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *