नवम्बर 27, 2022

Motivational & Success Stories in Hindi- Best Real Life Inspirational Stories

Find the best motivational stories in hindi, inspirational story in hindi for success and more at hindifeeds.com

Mohita Sharma UPSC Success story in Hindi

Mohita Sharma UPSC Success story in Hindi

पिता करते हैं मारुति फैक्ट्री में काम , यूपीएससी पास कर बेटी बनी आईपीएस ऑफिसर

Mohita Sharma UPSC Success story in Hindi :-

आज हम बात करने वाले हैं हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा की रहने वाली मोहिता शर्मा की, वर्ष 2017 के बैच में मोहिता शर्मा यूपीएससी की परीक्षा पास कर आईपीएस ऑफिसर बनी है।

हालांकि मोहिता शर्मा के लिए यूपीएससी की परीक्षा को पास करना इतना आसान नहीं था इसका कारण यह था कि इनके परिवार की आर्थिक स्थिति कुछ अच्छी नहीं थी।

जानकारी के लिए आप सभी को बता दें कि संघ लोक सेवा आयोग की सिविल सेवा परीक्षा को पास करना बहुत अधिक कठिन होता है।

किसी भी छात्र को सिविल सेवा परीक्षा को पास करने के लिए कड़ी मेहनत और धैर्य की आवश्यकता पड़ती है।

इसके साथ ही साथ कई ऐसे भी छात्र होते हैं जो सिविल सेवा की परीक्षा को पास करने के लिए कई समस्याओं का सामना करते हैं।

आज की कुछ ऐसी ही कहानी हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा की रहने वाली मोहिता शर्मा की है, जो वर्ष 2017 की बैच मैं यूपीएससी के परीक्षा को पास कर आईपीएस ऑफिसर बनी है।

पिता करते हैं मारुति फैक्ट्री में काम :-

यूपीएससी पाठशाला की रिपोर्ट के अनुसार पता चला है कि मोहिता शर्मा हिमाचल प्रदेश कांगड़ा की रहने वाली निवासी थी परंतु कुछ समय पहले ही उनका परिवार दिल्ली आ गया।

आईपीएस ऑफिसर मोहिता शर्मा के पिता मारुति कंपनी में कार्य करते हैं और उनकी माता एक ग्रहणी है, परंतु मोहिता शर्मा के पिता ने उनकी पढ़ाई में किसी भी तरह की कसर नहीं छोड़ी थी , और यही कारण है कि मोहित शर्मा ने कड़ी मेहनत करके यूपीएससी परीक्षा को पास किया है।

दिल्ली में हुई थी पढ़ाई की शुरुआत :-

खबरों से पता चला है कि आईपीएस ऑफिसर मोहित शर्मा ने अपनी शुरुआती पढ़ाई पब्लिक स्कूल द्वारिका से पूरी की थी, इसके बाद मोहिता शर्मा ने आगे की पढ़ाई भारतीय विद्यापीठ कॉलेज इलेक्ट्रॉनिक्स और  संसार के इंजीनियरिंग की डिग्री प्राप्त की थी।

जानकारी के लिए आप सभी को बता दें कि मोहित शर्मा ने 2012 में अपनी बीटेक की डिग्री हासिल कर ली थी और इसके पश्चात ही उन्होंने यूपीएससी की पढ़ाई के लिए तैयारी करना आरंभ कर दिया था, परंतु यूपीएससी की परीक्षा की पढ़ाई और तैयारी करने के लिए उनके पास सही शिक्षा देने वाला कोई नहीं था इसलिए वे चार बार असफल हो चुकी थी।

इस प्रकार तय किया इंजीनियरिंग से आईपीएस ऑफिसर का सफर :-

खबरों से पता चला है कि जिस वक्त मोहिता यूपीएससी की परीक्षा की तैयारी कर रही थी उस समय उन्हें सही शिक्षा देने वाला कोई नहीं था और इस प्रकार उन्हें कई मुश्किलों का सामना करना पड़ा था, इस प्रकार 4 बार परीक्षा में सफलता हासिल करने के बाद उन्होंने अपनी गलतियों को सुधारा और उन पर काम किया और इसके बाद ही उन्होंने अपनी कड़ी मेहनत और लगन एवं समर्पण के द्वारा यूपीएससी की परीक्षा को पास कर लिया।

परीक्षा के लिए इंटरनेट से की तैयारी :-

कई खबरों एवं जानकारियों से ऐसा पता चला है कि यूपीएससी की परीक्षा को पास करने के लिए कई विद्यार्थी मोबाइल फोन और इंटरनेट से अपनी दूरी बनाकर रखते हैं और सारा ध्यान अपनी किताबों में लगाते हैं।

परंतु मोहिता शर्मा ने ऐसा नहीं किया उन्होंने सामान्य शिक्षा के लिए मोबाइल फोन एवं इंटरनेट का उपयोग सबसे अधिक किया।

मोहित तो बताती है कि इंटरनेट पर सही जानकारी बेहद आसानी से उपलब्ध हो जाती है और वह इन सभी जानकारियों से नोट्स बना लेती थी जो उनके लिए बेहद ही सहायक साबित होते थे। मोहिता के मुताबिक नोट्स बनाकर तैयारी करने से अध्ययन सटीक रूप से हो पाता है।

केबीसी में मोहिता शर्मा 7 करोड़ रुपए जीतने से चुकी थी :-

टेलीविजन पर आने वाला कौन बनेगा करोड़पति बेहद ही चर्चाओं में रहता है इसके साथ ही साथ कौन बनेगा करोड़पति के 12 सीजन में हमारी 2017 बैच की आईपीएस ऑफिसर मोहिता शर्मा ने अपना काफी शानदार खेल दिखाया और इस दौरान उन्होंने 1 करोड़ रुपए भी जीते थे।

अगर आप लोगों ने कौन बनेगा करोड़पति कि 12 वां   सीजन देखा होगा तो आपको यह अच्छे से याद होगा कि मोहिता शर्मा  आखरी प्रश्न 7 करोड़ का था और वे उसमें अटक गई थी और अपने कंफ्यूजन के कारण उन्होंने इसका उत्तर नहीं दिया और गेम से एग्जिट कर लिया ,और एक करोड़ की धनराशि अपने घर ले गई।

आईपीएस अधिकारी से कर ली शादी :-

जानकारिय के लिए आप सभी को बता दें कि साल 2017 के बैच की आईपीएस ऑफिसर मोहिता शर्मा ने 2019 में एक आईपीएस अधिकारी से शादी कर ली।

मोहित शर्मा के पति का नाम रूशल गर्ग है। बातचीत के दौरान मोहिता बताती हैं कि उन्होंने कभी सोचा भी नहीं था कि वे केबीसी में कंटेस्टेंट के रूप मैं खेलने जाएंगी, परंतु वह बताती है कि मेरे पति 20 साल से इस शो में जाने की कोशिश कर रहे थे परंतु उनको कभी मौका नहीं मिला, और इस दौरान मैंने मेरे पति के कहने पर रजिस्ट्रेशन किया और इस दौरान ही मुझे पहली बार इस शो में आने का मौका मिल गया।

मोहिता शर्मा बताती है कि भले ही वे छोटे परिवार से हैं बचपन में उनकी घर की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं थी। परंतु उसके पिता भले ही मारुति कंपनी में कार्य करते थे और घर की आर्थिक स्थिति को ना देखते हुए उसके पिता ने उसकी पढ़ाई पर पूरा ध्यान दिया।

मोहिता शर्मा कहती हैं कि आज मैं इस मुकाम पर अपने पिता के कारण हूं आज अगर मेरे पिता मुझे अच्छी तरह से शिक्षित नहीं करते तो मैं कभी यह मुकाम नहीं हासिल कर पाती।

यह थी हमारी आज की आईपीएस ऑफिसर मोहिता शर्मा की कहानी, आज की मोहिता शर्मा की कहानी हमें या प्रेरणा दे रही है कि छोटे परिवार से होते हुए भी वह काफी बड़े पद में कार्यरत हैं और अपने परिवार के साथ साथ देश का का नाम रोशन कर रही है।

मोहिता शर्मा आज के युवाओं को प्रेरणा देते हुए कहते हैं कि किसी भी परीक्षा को पास करने के लिए मन का एकाग्र होना बेहद ही आवश्यक है।

मोहिता शर्मा बताती है कि किसी भी बड़े पद पर कार्यरत होने के लिए हमारी आर्थिक स्थिति कुछ भी मायने नहीं रखती है मायने रखता है तो मन में प्रबल विश्वास और कड़ी मेहनत, इन दोनों चीजों के सहारे हम आसानी से किसी भी स्थिति का निवारण कर सकते हैं।

 

लेखिका : अमरजीत कौर

यह भी पढ़ें :

केरल स्टेशन पर कुली का काम और सफाई करने वाले श्रीनाथ बने I A S ऑफिसर, स्टेशन के वाईफाई से करते थे पढ़ाई