इकोनॉमिक्स से ग्रेजुएशन करने के बाद नहीं लगी सरकारी नौकरी, तो बिहार की लड़की बन गई चायवाली

आज हम आपको एक ऐसी लड़की के बारे में बताने जा रहे हैं जिसने जी जान से पढ़ाई की सरकारी नौकरी हासिल करने के लिए मेहनत और लगन के साथ तैयारी की परंतु कोई भी नौकरी प्राप्त हो पाई , परंतु आज यह खुद का एक  व्यापार चलाती है और चायवाली के नाम से काफी अधिक मशहूर है।

अर्थशास्त्र के विषय में की है पढ़ाई

कहते हैं ना अगर कुछ कर गुजरने की ख्वाहिश हो तो दिल दिमाग समाज और शर्म से बगावत करना लाजमी है , कुछ इस प्रकार की बिहार की प्रियंका गुप्ता ने समाज की बातें और लोगों का डर छोड़ कर अपना खुद का एक काम शुरू किया है ।

प्रियंका गुप्ता ने अर्थशास्त्र के विषय में ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी की है अर्थात इन्होंने सरकारी नौकरी प्राप्त करने के लिए कई सालों तक सरकारी नौकरी की तैयारी की परंतु उन्हें सफलता नहीं हासिल हो पाई ‌, ऐसा नहीं है कि प्रियंका ने केवल एक बार प्रयास किया लगातार प्रयास करने के बावजूद भी प्रियंका को सफलता हासिल ना हो पाई‌।

इसके कुछ समय बाद इन्होंने अपने परिवार की स्थितियों को देखते हुए और अपनी बेरोजगारी को सुधारने के लिए कॉलेज के बाहर में ही एक चाय का स्टाल लगाना शुरू कर दिया था ।

शुरुआत में लोगों ने उड़ाया काफी मजाक

वैसे अगर देखा जाए तो प्राचीन समय की अपेक्षा से आज के समय में महिलाओं की स्थितियों में काफी सुधार आ गया है आज महिलाओं ने ना केवल खुद का एक क्षेत्र स्थापित कर लिया है इसके साथ ही साथ आज की बेटियों ने फाइटर प्लेन से लेकर उद्यमशीलता के क्षेत्रों में अपने नाम को ऊंचा किया है  ।

परंतु आज भी कई क्षेत्रों में कई लोग तुक्ष सोच विचारों के होते हैं जहां पर लड़कियों को कुछ नया काम करने के लिए समाज और लोगों का डर रहता है अर्थात उन्हें अपने आपको साबित करके दिखाना पड़ता है , प्रियंका गुप्ता को भी अपने नए काम को शुरू करने के लिए कुछ इसी प्रकार की परेशानियां और दिक्कत का सामना करना पड़ा था शुरुआत में तो कई लोगों ने उनका मजाक भी उड़ाया था ।

चायवाले प्रफुल्ला से काफी अधिक प्रभावित है

प्रियंका गुप्ता ने पटना विश्वविद्यालय से इकोनॉमिक्स के विषय में साल 2019 में ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल की और कुछ समय बाद ही कॉलेज के बाहर चाय का स्टाल लगाकर अपने काम की शुरुआत की है, प्रियंका गुप्ता का चाय का स्टाल एमबीए चायवाले के नाम से काफी अधिक मशहूर है , अर्थात प्रियंका बताती है कि वह बिजनेसमैन प्रफुल्ला बिल्लौर से काफी अधिक प्रभावित हैं ।

देखते-देखते प्रियंका हो गई है चायवाली के नाम से मशहूर

जानकारी के लिए आप सभी को बता दें कि प्रियंका गुप्ता मूल रूप से बिहार के पटना जिले के पूर्णया इलाके की रहने वाली है अर्थात इन दिनों प्रियंका गुप्ता सोशल मीडिया पर काफी अधिक छाए हुए हैं, सोशल मीडिया पर लोग इन्हें प्रतिक्रिया देते हुए चाय वाली के नाम से संबोधित करते हैं ।

इसके साथ ही साथ प्रियंका गुप्ता ने अपने चाय वाले स्टॉल के बोर्ड पर भी खुद को चायवाली के नाम से दर्शाया है, इसके साथ ही साथ उन्होंने अपनी टैग लाइन में “पीना ही पड़ेगा” का इस्तेमाल किया है, इसके साथ ही साथ उन्होंने बोर्ड पर यह भी लिखा है कि ‘लोग क्या सोचेंगे अगर वह हम सोचेंगे तो आखिर लोग क्या सोचेंगे’।

आज प्रियंका गुप्ता का यह हौसला कई लड़कियों के लिए प्रेरणास्रोत बन रहा है अर्थात भले ही प्रियंका को सरकारी नौकरी हासिल नहीं हुई परंतु उन्होंने चाय का स्टाल खोलें का निश्चय किया अर्थात उन्होंने यह भी नहीं सोचा कि लोग क्या कहेंगे या उनका मजाक उड़ाएंगे परंतु उन्होंने चाय का स्टाल खोलकर आज अपने घर की स्थितियों को तो सुधारा है इसके साथ ही साथ चाय वाली के नाम से मशहूर भी हो रही है ।

 

लेखिका : अमरजीत कौर

यह भी पढ़ें :

देश की यह बेटी देश के लिए दो मेडल जीत कर लाई थी परंतु आज समोसे बेचकर अपनी जिंदगी का गुजारा कर रही है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *