ADVERTISEMENT
Shahnaz Illyas UPSC Success story in Hindi

शहनाज़ इल्यास की प्रेग्नेंसी में UPSC की परीक्षा दे IPS बनने की रोचक कहानी

ADVERTISEMENT

Shahnaz Illyas UPSC Success story in Hindi :-

यूपीएससी की परीक्षा को पास करना अपने आप मे एक चुनौती होती है। इसे देश की सबसे कठिन परीक्षा समझा जाता है। हर साल आईएएस बनने का सपना सजा कर लाखो युवा इस परीक्षा में बैठते हैं।

लेकिन कुछ गिने-चुने अभ्यर्थियों को ही इस परीक्षा में सफलता हासिल होती है। आज हम एक ऐसी आईपीएस अधिकारी की कहानी जानेंगे जिसने प्रेग्नेंट होते हुए भी यूपीएससी की तैयारी की और परीक्षा दी।

ADVERTISEMENT

जी हां, हम बात कर रहे हैं शहनाज इल्यास की, जो आज लाखों युवाओं के लिए एक प्रेरणा की वजह बन गई है। शहनाज इल्यास ने साल 2020 में अपने पहले ही प्रयास में यूपीएससी की परीक्षा में सफलता हासिल की है।

शहनाज को 217 वीं रैंक हासिल हुई है। बता दें कि इस रैंक के साथ शहनाज इल्यास को आईपीएस के लिए चुना गया है। और आज यह आईपीएस अधिकारी लाखों महिलाओं के लिए प्रेरणा स्रोत बन गई है।

शहनाज इल्यास परिचय

शहनाज इल्यास मूल रूप से तमिलनाडु की रहने वाली हैं। उन्होंने अपनी कॉलेज की पढ़ाई के बाद नौकरी शुरू कर दी थी। वह 5 साल तक नौकरी की। लेकिन उनका मन इसमें नहीं लग पाया।

इसी दौरान शहनाज प्रेग्नेंट हो गई। वह छुट्टी के दौरान यूपीएससी की तैयारी करने का मन बनाती है। प्रेगनेंसी के दौरान शहनाज इल्यास यूपीएससी की तैयारी में जुट जाती हैं।

अपनी प्रेग्नेंसी के नौवें महीने में शहनाज इल्यास अपनी यूपीएससी की प्रारंभिक परीक्षा देती हैं और पहली ही बार में प्रारंभिक परीक्षा पास कर लेती हैं।

अब उनके सामने नई चुनौती थी। वह एक न्यू बोर्न बेबी की मां बन गई थी। साथ में मेंस की तैयारी करना था। मैंस परीक्षा की तैयारी अपने आप में काफी चुनौती पूर्ण होती है। साथ में बच्चे को पालना भी काफी चुनौतीपूर्ण होता है।

लेकिन शहनाज इल्यास ने हिम्मत दिखाई। इस दौरान उनके परिवार वालों ने भी उनका भरपूर साथ दिया। शहनाज इल्यास ने अपनी तैयारी के लिए एक टाइम टेबल बनाया और बेहद अनुशासन के साथ अपने टाइम टेबल को फॉलो करना शुरू किया।

शहनाज ने तैयारी के दौरान कई चुनौतियों का भी सामना किया। लेकिन वह डटी रही बच्चे के साथ वह मेंस परीक्षा की तैयारी की और मेंस परीक्षा में सफल हो गई।

फिर अंतिम चरण इंटरव्यू का आया। शहनाज इल्यास इसमें भी सफलता हासिल की और तमाम चुनौतियों का सामना करते हुए आखिरकार शहनाज ने यूपीएससी की परीक्षा पास कर ली थी। रैंक के आधार पर उन्हें आईपीएस के लिए चुना गया।

लोगों अभ्यर्थियों के लिए प्रेरणा

शहनाज इल्यास आज न सिर्फ लाखों यूपीएससी एस्पायरेंट के लिए प्रेरणा का स्त्रोत है। बल्कि उन लाखों महिलाओं के लिए भी आज वह प्रेरणा बन गई हैं जो यह सोचती हैं कि शादी के बाद बच्चे के साथ यूपीएससी जैसी कठिन परीक्षा की तैयारी करना असंभव है।

लेकिन शहनाज ने इस असंभव को संभव कर दिखाया। शहनाज इल्यास से प्रेरणा लेकर महिलाओं को चाहिए कि वह शादी के बाद भी अपने सपने को न छोड़े और अपने सपने को पूरा करने के लिए अपनी पूरी कोशिश ईमानदारी से जरूर करें।

यह भी पढ़ें :

लाखों की नौकरी छोड़ सिविल सर्विस में आने का फैसला किया, अपराधी इस आईपीएस के नाम से काँपते हैं

Similar Posts

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *